फेनहरा प्रखंड: अकिलुर्रहमान की जोड़-तोड़ से बंदना बनीं प्रमुख, खुद बने उप प्रमुख

 

imageफेनहरा: फेनहरा प्रखंड में तनाव भरे माहौल के बीच प्रखंड प्रमुख का चुनाव संपन्न हो गया. 9 पंचायत समिति सदस्यों वाले प्रखंड की प्रमुख बनी हैं बंदना देवी और हाजी मोहम्मद अकिलुर्रहमान की झोली में उप-प्रमुख का पद गया है. बंदना देवी गोबिंदबारा की रहने वाली हैं और दिलीप कुमार सिंह की पत्नी हैं. उन्होंने पहली बार पंचायत चुनाव लड़ा और भारी मतों से जीत दर्ज की. फेनहारा में पहली बार किसी महिला ने प्रमुख के पद पर अपना कब्जा जमाया है.

सोमवार की सुबह से ही प्रमुख चुनाव की गहमागहमी थी. श्याम किशोर सिंह की जीत की अटकलें लगाई जा रही थीं और उनके खेमे में जश्न का माहौल था लेकिन जैसे ही चुनाव का वक़्त करीब आया पंचायत समिति सदस्य हाजी मोहम्मद अकिलुर्रहमान ने बाज़ी पलटते हुए बंदना देवी के हक में जीत को मोड़ दिया.

अकिलुर्रहमान के जोड़-तोड़ और बंदना देवी के पति दिलीप सिंह की कोशिशों ने ये जीत दिलाई. दिलीप सिंह अपने पक्ष में अंतिम-अंतिम समय तक पांच वोट जोड़कर रखने में कामयाब रहे. बंदना देवी को अकिलुर्रहमान के अलावा पंचायत समिति सदस्य विभा कुमारी सहनी, भागनारायण राम और रहमत आरा के मत मिले.

  • aqeel

हाजी मोहम्मद अकिलुर्रहमान को उनकी कोशिशों का इनाम भी मिला और उप-प्रमुख के पद से नवाज़े गए. अकिलुर्रहमान पंचायत स्तर पर अपने जोड़-तोड़ के लिए जाने जाते हैं. पहली बार उन्होंने प्रखंड स्तर पर अपने दम-खम का लोहा मनवाया है. 25 साल से राजनीति कर रहे अकिलुर्रहमान ने 2006 में पंचायत चुनाव में किस्मत आजमाई थी, लेकिन करारी हार मिली थी. इस साल 10 साल के वनवास के बाद पंचायत समिति का चुनाव लड़ा और प्रखंडभर में सबसे बड़ी जीत दर्ज की.

फेनहारा न्यूज़ डॉट कॉम की तरफ से बंदना देवी और हाजी मोहम्मद अकिलुर्रहमान को बधाई.

अगर कोई पत्रकार बंधु, जिनका संबंध चंपारण के किसी भी कस्बे से हो, phenharanews.com से जुड़ना चाहते हैं तो phenharanews@gmail.com पर अपना रिज्यूमे भेजें.